अगर आपके भी मोबाइल में UIDAI का नंबर सेव हैं तो आपकी PRIVACY हो सकती हैं लीक

0
3833

आज हम आपको बताएंगे आप के मोबाइल में Unique Identification Authority of India (UIDAI)  नंबर सेव होने का रहस्य अगर आपके मोबाइल में कोई आपकी जानकारी के बिना एक नंबर सेव कर सकता है तो वह आपके मोबाइल के साथ कुछ भी कर सकता है, Unique Identification Authority of India (UIDAI) आसान भाषा में समझे तो आधार देशवासियों को यह एक पहचान पत्र नाम पर दिया जाता है और इसी आधार के नाम पर हमारे और आपके बिना जानकारी के आधार संस्था (UIDAI)  का नंबर सेव हो रहे हैं यह नंबर है 1800-300-1947 या सिर्फ 194.  क्या यह नंबर आपके Android मोबाइल में भी सेव है तो एक बार अभी जरूर चेक कर ले क्योंकि जो हम इसके पीछे का रहस्य बताने वाले हैं वह जानकर आप चौक जाएंगे 

आपके फोन में यह (UIDAI)  नंबर सेव होने से डरना क्यों जरूरी है क्योंकि यह वैसे ही बात हो गई कोई आपके घर में खुशियां आपको कुछ  बिना बताए अब आप पूछेंगे अगर आधार का नंबर सेव हुआ है तो उससे क्यों डरना जरूरी है ? तो आइए हम बताते हैं कोई आपकी जानकारी के आपके कॉल हिस्ट्री निकाल सकता है, कोई आपके फोन में फेंक सॉफ्टवेयर अपडेट करके उसकी पल-पल की जानकारी ले सकता है अपने पास कुल मिलाकर आप की प्राइवेसी को तहस-नहस कर सकता है अगर एक नंबर आपकी जानकारी के बिना आपके ही फोन के अंदर से हो सकता है तो आपके ही जानकारी के बिना आपकी फोन की कुछ डाटा भी लीक हो सकती हैं

इससे आम आदमी ही नहीं बल्कि नेता भी परेशान हुए हैं पूर्व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस घटना को ईवीएम से जोड़ दिया और BJP के ऊपर निशाना साध दिया जब लोगों के बीच इतना घबराने का माहौल चालू हो गया था तभी (UIDAI)  जानकारी देते हुए कहा कि जो अभी आपके मोबाइल में नंबर सेव हो रहे हैं वह हमारा पुराना नंबर है और वह 2 साल पहले बंद हो चुका है तो कोई अपने फायदे के लिए लोगों के बीच गलतफहमी फैलाने की कोशिश की है

थोड़े ही दिन पहले जब आर शर्मा ने अपना आधार नंबर ट्विटर पर शेयर किया था तो एक हैकर ने उनकी पूरी जानकारी दे दी थी जैसे कि उनकी बैंक डिटेल्स उनकी फोटो से लेकर सब तो यह आधार नंबर आपके लिए कितना जरूरी है यह सबको पता ही है एक आधार आपके बैंक से लेकर गैस , वोटर ID कार्ड सब से लिंक है तो अगर आपके भी मोबाइल में यह कांटेक्ट लिस्ट सेव है तो इसे तुरंत डिलीट करें और  कभी अपना आधार नंबर किसी से शेयर ना करें