बिल गेट्स ने कहा भारत में बच्चों के स्वास्थ्य में हो रहा सुधार, लेकिन अभी और बजट बढ़ाने की जरूरत

0
2394

मानव संसाधन का किसी भी देश के विकाश में एक बहुत बड़ा ही योगदान होता है। किसी भी देश की तरक्की के पीछे उनके लोगो का स्वास्थ्य है। जिस देश के लोग स्वस्थ रहेंगे उस देश की तरक्की की रफ़्तार काफी गुने  बढ़ जायेगी। बेहतर काम के लिए एक बेहतर मानव सरीर की जरूरत होती है , जो देश की तरक्की में एक बेहतर योगदान देते हैं। अगर किसी व्यक्ति का बचपन खुश मिज़ाज़ हो तो उसकी जवानी भी अच्छे से कटती और वो हमेशा स्वास्थ्य पे किसी तरह का ज्यादा असर नहीं पड़ता।

जैसा की सबको पता है देश की तरक्की के पीछे उनके लोग होते हैं। लेकिन इस्सस धरती पे ऐसे कई देश है जहाँ बच्चे जनम लेते ही दम तोड़ देते हैं जिसकी वजह से देश के विकाश की महत्वपूर्ण कमर ही टूट जाती है।

लगतार हर साल स्वास्थ्य में हो रहे सुधार 

सुचना प्रौद्योगिकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक एवं उसके मालिक और एक समाजसेवक बिल गेट्स ने एक बयान में ये जारी किया है की हर साल भारत में जनम लेने वाले बच्चों में काफी हद्द तक सुधार देखने को मिल रहा है। बच्चों की स्वास्थ्य में सुधार होना अपने आप में एक बड़ी जीत है। बिल गेट्स बच्चों के स्वास्थ्य के लिए , उनके पोषण और उनको मौत से चुकारा दिलाने के लिए अब तक काफी योगदान कर चुके हैं. हालांकि केंद्रीय और राज्य सरकार दोनों इस मामले में फंड भी काफी हद्द तक बढ़ा रहे ताकि बच्चों की पोषण में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं आये। कुछ साल पहले लागू हुए एक सर्वे रिपोर्ट के अनुसार बच्चों की जनम लेते ही मृत्यु के दर काफी ज्यादा बढ़ गए थे लेकिन तब के हिसाब से अब काफी ज्यादा कमी आगयी है और सुधार भी हो चूका है।

बच्चों की लगतार मृत्यु भी भारत देश के लिए एक ऐसी समस्या बन चूका था जिसकी वजह से भारत के विकाश में काफी कमी आगयी  थी। यही एक ख़ास वजह थी की पिछले कुछ सालों में भारत का विकाश अन्य देशों के मुताबिक़ काफी काम हो चूका था।

मोदी सरकार की देश  में सत्ता आने के बाद देश में कई बदलाव देखे जा रहे है उनमे से बच्चों से लेके वृद्धों की स्वास्थ्य समस्या में काफी कमी देखि गयी है। हालांकि प्रतिदिन केंद्रीय सरकार इन समस्या को जड़ से उखाड़ फेकने के लिए कई एहम कदम उठा रही है जिसके वजह से भारत भी अब धीरे धीरे प्रगति की मार्ग पे काफी आगे बढ़ चूका है। मोदी सरकार द्वारा ऐसी कई योजनाएं चलाई जा रही है जिसकी मदद से लोगो को बिमारी के इलाज़ मे आर्थिक मदद मिल रही है।

बिल गेट्स ने कहा है की भारत में बच्चों के टीकाकरण भी काफी बढ़ चुके है जो की एक बहुत ही अच्छी बात है।बिल गेट्स का कहना है की स्वास्थ्य समस्या को लेके भारत में जितनी भी मदद की जरूरत होगी वो करेंगे।

कुपोषण की समस्या को हल करने में बहुत पीछे है भारत 

बिल गेट्स का कहना है की भारत में टीकाकरण के बढ़ने के पीछे उनके नेताओं का काफी योगदान है। बिल गेट्स ने स्वाथ्य और शिक्षा की और योगदान बढ़ाते हुए अपनबा काम बिहार और उत्तर प्रदेश में काफी ज्यादा बढ़ा दिया है। उनका कहना है की कुपोषण की समस्या अब भी एक एक ऐसी समस्या है जिसको सुलझाएं सबसे ज्यादा जरुरी है। उनका  कहना है की  राज्य और केंद्र सरकार को जित्तनी बजट दी गयी है स्वास्थ्य और पोषण के लिए वो काफी ज्यादा काम है। उनका केहग्न है की बेहतर पोषण और बेहतर स्वास्थ्य समस्या को सुलझाने के लिए बजट को काफी बढ़ाना पड़ेगा। हालांकि अभी के नतीजे देखने से ये समझ आरहा है की चिओज़ेन अभी सकारात्मक है मगर फिर भी इन समस्याओं को जरर से हटाने के लिए अब भी कई काम करने बाकी हैं।