भ्रष्टाचार मामले में मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के खिलाफ हाई कोर्ट ने सीबीआई जांच का आदेश दिया

0
803

हम सब को  हर रोज़ भ्रष्टाचार के कोई न कोई खबर मिलते रहते है। अक्सर हमें भ्रष्टाचार की नयी नयी कहानियां मिल ही जाती हैं। लेकिन हाल ही में एक बड़ी खबर सामने आयी है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के खिलाफ भ्रष्टाचार की खबर सामने आयी है। पलानीस्वामी पे आरोप है की उन्होंने 3.5 हजार करोड़ रुपये सरक निर्माण   थे उसका ठेका उन्होंने अपने रिश्तेदारों को दिए। हालाँकि इस मामले पे पहले डीएवीसी द्वारा पहले जांच हो चुकी है पर कोर्ट ने इस जांच से असंतुष्टि जताते हुए कहा की उनकी जांच में पूरी रिपोर्ट सामने पेश नहीं की गयी है और साथ ही साथ हाई कोर्ट ने सीबीआई जांच का भी आदेश दिया है।


मद्रास हाई कोर्ट ने शुक्रवार की सुबह में सीबीआई की जांच का आदेश दिया साथ ही साथ डीएवीसी को इस मामले जुड़े सारी रिपोर्ट 7 दिनों के अंदर सीबीआई को सौंपने का आदेश दे दिया है। यह फैसला हाई कोर्ट ने द्रमुक की याचिका पे सुनवाई  करने के बाद लिया।


जस्टिस एडी चंदिरा ने इस केस से जुड़े सारे रिपोर्ट एक हफ्ते के अंदर सीबीआई को सौपने का आदेश दिया है। साथ ही साथ ये भी कहा है की सीबीआई को अपनी प्रारम्भिक जांच 3 महीने के अंदर पूरी करनी होगी। द्रमुक के मुताबिक़ मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने अपने पद का गलत इस्तेमाल करते हुए सरक निर्माण में जो रुपये इस्तेमाल  थे वो अपने ही रिश्तेदारों को सौंप कर फ्रॉड करने की कोशिस करी।

कोर्ट ने 12 सितम्बर  डीएवीसी को जांच की रिपोर्ट हर दिन कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया लेकिन फिर याचिकाकर्ताओं ने यह मांग करी की उन्हें उनकी जांच पे भरोसा नहीं साथ ही साथ जांच की फाइल स्वतंत्र एजेंसिओं के हवाले दे दिया जाए। साथ ही साथ ये भी आरोप लगाया है की डीएवीसी ने मुख्यमंत्री के हित में जांच करी है और उनके पक्ष से सारी रिपोर्ट तैयार करी है।