दिल्ली में प्रदुषण का स्तर और भी बढ़ा, घरों की खिड़कियां दरवाज़े बंद रखने की मिली चेतावनी

0
575

अभी ठीक से सर्दियाँ आयी भी नहीं की दिल्ली का प्रदुषण स्तर काफी ज्यादा बढ़ गया है जिसकी वजह से लोगों को घर से बहार निकलने तक में मुश्किल हो गया है। सरकार ने लोगों को अपने अपने घरों की दरवाज़े और खिड़कियां बंद रखने की सलाह दी है। साथ ही साथ मौसम विभाग के सरकारी अफसरों ने ये भी कहा है की वाहनों का इस्तेमाल जित्तना हो सके उतना काम करें। वाहन का काम इस्तेमाल प्रदुषण काम करने में काफी मददगार साबित होगा जिसकी वजह से प्रदुषण का लेवल काफी गिर सकता है।

केंद्रीय प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार दिल्ली की जगह जगह की हवा का प्रशिक्षण किया गया है जिसका नतीजा निकला है की दिल्ली की हवा काफी ज्यादा ख़राब होगयी है जो की एक गंभीर चिंता का विषय बन चूका है। साथ ही साथ दिल्ली की इस बढ़ती प्रदुषण का जिम्मेदार मुख्य रूप से पंजाब और हरियाणा में प्रालि जलने वालों को बतया गया है।

रिपोर्ट्स की माने तो दिल्ली की 8 जगहों पे हवा एकदम जेहेरिली होगयी है जिसकी वजह से लोगों को काफी ज्यादा तकलीफ का सामना करना पर रहा है।

केंद्रीय प्रदुषण बोर्ड ने दिल्ली की आस पास की हवा की जांच की जिससे पता चला है दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के गाज़ियाबाद में हवा काफी ज्यादा ज़ेहरीला हो गया है, इसके साथ साथ दिल्ली के आस पास के इलाके जैसे फरीदाबाद, गुरगाओं और नॉएडा जैसे सेहरों में भी हवा काफी ज्यादा गन्दी होगयी है।

रिपोर्ट्स के अनुसार दिल्ली के 8 इलाकों में हवा काफी ख़राब है जिनमे आते हैं विवेक विहार, रोहिणी, द्वारका , नरेला, पंजाबी बाग़, बवाना, आनंद विहार, मुंडका

सुप्रीम कोर्ट ने भी प्रदुषण से जल्द छुटकारा पाने के लिए कोई रास्ता निकलने का आदेश दिया है। तब तक बच्चों और बुजुर्गों को घर से काम से काम निकलने की सलाह दे और साथ ही साथ मास्क का प्रयोग अवश्य करें। इसके अलावा जित्तना काम हो सके गाड़ियों का इस्तेमाल करें और घरो की खिड़कियां दरवाज़े बंद रखें।